कवर्धाछत्तीसगढ़

कलेक्टर के निर्देश पर जिले के सभी एसडीएम, तहसीलदार और पुलिस के जवानों द्वारा जिले में बारिश की स्थिति पर रखी जा रही सतत निगरानी

हॉप नदी में ग्राम डोमसरा में फसे 4 परिवार को सुरक्षित निकाला गया

हॉप नदी में ग्राम डोमसरा में फसे 4 परिवार को सुरक्षित निकाला गया

ग्राम ख़ैरझिटी में प्रभावित परिवार को सामुदायिक भवन में रुकवाया गया और राशन सामग्री उपलब्ध कराई गई

बोड़ला, तारेगाव, दलदली मार्ग में तत्काल प्रारंभ कराया गया आवागमन 

जिला प्रशासन की टीम राहत कार्य के लिए लगातार मुस्तैद 

 

कवर्धा, 29 जुलाई 2023। कबीरधाम जिले में पिछले रात से आज दोपहर तक हुई लगातार बारिश की स्थिति को देखते हुए जिला प्रशासन द्वारा अलर्ट रहते हुए राहत कार्य किया जा रहा है। कलेक्टर श्री जनमेजय महोबे के निर्देश पर जिले के सभी एसडीएम, तहसीलदार, पुलिस और जिला सेनानी के जवानों के द्वारा जिले में बारिश की स्थिति पर सतत मॉनिटरिंग की जा रही है और जरूरत के आधार पर राहतदल द्वारा प्रभावितों को राहत पहुंचाई जा रही है।

कलेक्टर श्री जनमेजय महोबे ने जिले में लगातार हो रही बारिश की स्थिति को देखते हुए प्रभावित क्षेत्र में अधिकारियों को राहत कार्य के लिए भेजते हुए स्थिति की जानकारी ली। प्रभावित लोगों को प्रशासनिक अधिकारियो द्वारा सुरक्षित निकाला गया है और राहत शिविर व अन्य सुरक्षित स्थानों में ठहरने की व्यवस्था बनाई गई है। कलेक्टर श्री महोबे ने बताया कि विकासखंड पंडरिया के ग्राम ख़ैरझिटी और ग्राम डोमसरा के 4-4 परिवार प्रभावित हुए है। ग्राम ख़ैरझिटी में प्रभावित परिवार के मकान बारिश से ढह गए है, उन परिवारों को सामुदायिक भवन में रुकवाया गया है और राशन सामग्री उपलब्ध करा दी गई है। ग्राम डोमसरा में हाफ नदी में जल का अधिक भराव होने से 4 परिवार टापू में फेस हुए थे, जिन्हे रेस्क्यू कर सुरक्षित कर लिया गया है। अभी हाफ़ नदी का जलस्तर कम हो गया है, कोई नुक़सान नही हुआ है। बोड़ला, तारेगाव, दलदली मार्ग में गिरे हुए पत्थर के बोल्डर को तत्काल जेसीबी की मदद से हटवाया गया और रोड में आवागमन शुरू कर दिया गया है। बोड़ला में एक मकान आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हुआ है। क्षतिग्रस्त हुए मकान में आरबीसी 6-4 के तहत प्रकरण दर्ज किया गया। नियमानुसार राहत राशि प्रभावितों को दी जाएगी।

कलेक्टर श्री महोबे ने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि नदी नाला में अधिक जल भराव के कारण पूल या रपटा के ऊपर पानी का बहाव हो रहा है, वहां आवागमन बंद करे। राहत टीम द्वारा सरोद भोरमदेव रोड में रपटा के ऊपर पानी का बहाव होने पर आवागमन बंद करवा दिया गया है। ग्राम गंगापुर, दरगवाँ, सँकरी मार्ग में भी पूल के ऊपर पानी बह रहा है, वहाँ कोटवार को निगरानी के लिए ड्यूटी लगाई गई है और आवागमन बंद किया गया है।

कलेक्टर श्री जनमेजय महोबे ने निर्देश पर जिले के सभी विकासखण्डों में राजस्व अनुविभगीय, तहसीलदार, जनपद पंचायत सीईओ, पुलिस, जिला सेनानी की संयुक्त टीम से जिले के सभी प्रभावित क्षेत्रों में सतत मॉनिटरिंग की जा रही है और उन क्षेत्रों में राहत शिविर बना कर प्रभावितों को ठहराने का काम भी किया जा रहा है। कलेक्टर श्री महोबे ने अधिक जल भराव की स्थिति को देखते हुए प्रभावित क्षेत्रों के गांवों में कोटवारों के माध्यम से मुनादी करा कर अलर्ट रहने के निर्देश दिए गए। साथ ही प्रभावित क्षेत्रों में सभी शासकीय भवनों, मंगलभवनों में राहत शिविर के उपयोग के लिए अधिकारियों को कहा गया है। जरूरत के आधार पर सभी राहत शिविरो में राशन, खाने पीने के समान, बिजली अथवा प्रकाश की व्यवस्था करने के निर्देश दिए है। प्रभावित लोगों को तत्काल राहत पहुंचान के लिए सभी नायाब तहसीलदारों को पटवारी, सचिव, नगर सैनिक की संयुक्त टीम बनाए गए है। कलेक्टर ने जल संसाधन विभाग के अधिकारी को जिले के सभी मध्यम जलाशलय में जल भराव, उलट की स्थिति व ओवर फलो की स्थिति पर चौबिसों घंटे मॉनिटरिंग करने एवं पल-पल की खबर देने के लिए कहा गया है।

Related Articles

Back to top button
× How can I help you?