कवर्धाछत्तीसगढ़मनोरंजनराजनीति

बैगा नृत्य से भोरमदेव महोत्सव का आगाज:कथक नृत्यांगना अनुराधा ने कालिया मर्दन को नृत्य के माध्यम से दिखाया, तो कस्तूरबा की छात्राओं ने दी शिव गाथा की प्रस्तुति

भोरमदेव महोत्सव के पहले दिन गीत- संगीत और नृत्य की त्रिवेणी बही। महोत्सव के मंच पर बुधवार की शाम छत्तीसगढ़ी नृत्य व गीत- संगीत की रसधारा बही, तो भोपाल से आईं कथक डांसर अनुराधा सिंह ने अपने नृत्य से शमां बांध दिया। अनुराधा ने नृत्य के जरिए सरस्वती महिमा की प्रस्तुति दी। उसके बाद कालिया मर्दन को नृत्य के माध्यम से दिखाया, जिसे देखकर दर्शक मंत्रमुग्ध हो गए।

वहीं कस्तूरबा आवासीय विद्यालय की छात्राओं ने नृत्य के जरिए शिव गाथा की शानदार प्रस्तुति दी। बच्चों की प्रस्तुति देखकर दर्शक इतने प्रभावित हुए कि उनकी डिमांड पर छात्राओं ने दोबारा शिव गाथा पर नृत्य पेश किया। कवर्धा स्थित भोरमदेव मंदिर में दो दिवसीय महोत्सव का शुभारंभ हो गया है। भगवान शिव की पूजा-आराधना के साथ मंदिर प्रांगण में विशेष पिछड़ी बैगा जनजाति के पारंपरिक नृत्य के साथ इसकी शुरुआत हुई।

बैगा व करमा नृत्य समेत कई विधाओं का संगम

इस बार महोत्सव में छत्तीसगढ़ के स्थानीय और अंचल के कलाकारों को भी महत्व देते हुए मंच दिया गया। महोत्सव के पहले दिन मंदिर प्रांगण में जसगीत, बैगा नृत्य, करमा नृत्य, बांस गीत, राम भजन और अलग-अलग सांस्कृतिक विद्याओं का संगम देखने का मिला। दोपहर 12 से 1 बजे तक बोड़ला ब्लॉक के चरण तिरथ, बैगा करमा नर्तक दल बारपानी के मोहतू सिंह व साथियों ने बैगा नृत्य की प्रस्तुति दी।

इसके बाद कवर्धा की राम बाई साहू ने पंडवानी, रामसाय साहू व धनेश विश्वकर्मा ने जसगीत और पुनीराम यादव ने भोरमदेव बांस गीत की प्रस्तुति दी। इस दौरान लेजर लाइट शो भी देखने को मिला।

ऐश्वर्या पंडित के बॉलीवुड गीतों पर झूमते रहे श्रोता

रात 9 बजे से हिंदी गीतों का सिलसिला शुरू हुआ। बॉलीवुड सिंगर ऐश्वर्या पंडित ने बॉलीवुड की एक से बढ़कर एक सुपर हिट गाने गाए। बॉलीवुड गीतों की प्रस्तुतियों ने दर्शकों में शमां बांध दिया। लोकगीत गायक दिलीप षडंगी ने प्रस्तुति दी।

आज बॉलीवुड व इंडियन आइडल सिंगर करेंगे परफार्म

महोत्सव के दूसरे दिन 31 मार्च को दोपहर 12 से 1 बजे के बीच प्रतिमा बारले की पण्डवानी, फिर शिवकुमार यादव का बांसगीत, निहोरा राम मरकाम व राकेश जैन द्वारा जसगीत व फागगीत और शाम 4 से 5 बजे के बीच गणेश यादव शिव भजन की प्रस्तुति देंगे। इसके शाम के आयोजन में रायपुर के भजन गायक प्रदीप चौबे, छत्तीसगढ़ और ओडिशा से आए डॉ. गजेंद्र पंडया व आर्या नंदे की ओडिसी नृत्य की प्रस्तुति होगी।

गुरुदास मानिकपुरी छत्तीसगढ़ लोकगीत गाएंगे। इसके अलावा बिलासपुर की अनिल गढ़ेवाल की टीम की गेड़ी नृत्य की प्रस्तुति देंगे। छत्तीसगढ़ के हास्य कार्यक्रमों के लिए मशहूर कौशल साहू और उनकी टीम महोत्सव के बीच-बीच में दर्शकों का मनोरंजन करेंगे। इसके बाद इंडियन आइडल सेलिब्रिटी बॉलीवुड सिंगर फेम अनुष्का बनर्जी, नचिकेत लेले, निहाल तारों व उनकी पूरी टीम की सुपर-हिट गीत संगीत से महोत्सव का मंच सजेगा। साथ ही हमर पारा तुहर पारा फेम.. अनिल मानिकपुरी और उनकी टीम कार्यक्रमों को आगे बढ़ाएंगे।

पहली बार मंदिरों के पुजारी को बनाया गया अतिथि

भोरमदेव महोत्सव में ऐसा पहली बार हुआ है, जब विभिन्न मंदिरों के पुजारियों को कार्यक्रम में बतौर अतिथि सम्मानित किया गया। कवर्धा के मां विंध्यवासिनी मंदिर के पुजारी जीवन शर्मा, पंचमुखी बूढ़ा महादेव मंदिर के पुजारी मनहरण दुबे, दंतेश्वरी मंदिर के अजय राजपूत, मां चण्डी मंदिर के तिहारी चंद्रवंशी, श्रीखेड़ापति हनुमान मंदिर के पुजारी पं. चंद्रकिरण तिवारी और लोहारा के मां शीतला मंदिर के पुजारी बीएन शुक्ला मंचासीन हुए। कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा, नपाध्यक्ष ऋषि कुमार शर्मा, एसपी डॉ. लाल उमेद सिंह, डीएफओ चूड़ामणि सिंह, जिपं सीईओ संदीप अग्रवाल ने अतिथियों और कलाकारों को सम्मानित किया।

2 साल बाद महोत्सव शुरू सुरक्षा के तगड़े बंदोबस्त

भोरमदेव मंदिर में हर साल तेरस पर भोरमदेव महोत्सव होता है। बीते दो साल से कोरोना संक्रमण के चलते महोत्सव नहीं हो पाया था। इस साल यह महोत्सव हो रहा है। तेरस पर मंदिर में दर्शन के लिए श्रद्धालुओं की अच्छी- खासी भीड़ देखने को मिली। वहीं भीड़ के मद्देनजर पुलिस ने सुरक्षा के तगड़े बंदोबस्त किए हैं। महोत्सव स्थल पर चारों ओर पुलिस बल तैनात किए गए।

अव्यवस्था न हो इसलिए 7 जगहों पर बनाई पार्किंग

भोरमदेव महोत्सव स्थल पर अव्यवस्था न हों, इसलिए प्रशासन ने कड़े इंतजाम किए थे। दुकानें व्यवस्थित लगवाई गई। महोत्सव में शामिल होने आए लोगों की सुविधा के लिए 7 जगहों पर पार्किंग स्थान बनाए गए। शनि मंदिर के पास 3 पार्किंग स्थल के अलावा शासकीय वाहनों और महोत्सव स्थल से लगा हुआ वीआईपी पार्किंग बनाया है।

Related Articles

Back to top button
× How can I help you?