कवर्धातकनीक

वित्तीय अधिकार विहिन सीएमएचओ होने से कर्मचारी वेतन से वंचित एवं अन्य समस्याग्रस्त कबीरधाम स्वास्थ्य विभाग!

वित्तीय अधिकार विहिन सीएमएचओ होने से कर्मचारी वेतन से वंचित एवं अन्य समस्याग्रस्त कबीरधाम स्वास्थ्य विभाग!

कवर्धा -: सुजाय मुखर्जी तत्कालीन मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी 30 जुन 2023 को सेवा निवृत्त हो गये है ! तबसे कबीरधाम जिला स्वास्थ्य विभाग मुख्य चिकित्सा अधिकारी विहीन हो गए हैं! विभागीय सूत्रों से प्राप्त जानकारी अनुसार सुजॉय मुखर्जी सीएमएचओ सेवानिवृत्त होने के बाद जिला चिकित्सालय अधीक्षक एम के सूर्यवंशी को आनन-फानन में प्रभार सौंपा है! विभागीय सूत्र बताते हैं सुजॉय मुखर्जी एक्सटेंशन लेने के लिए पूरी कोशिश में लगे हुए हैं! इस कारण अब तक प्रभारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी एम के सुर्यवंशी को संपूर्ण प्रभार नहीं सौंपा गया है ! इस कारण एम के सूर्यवंशी प्रभारी सीएमएचओ किसी भी वित्तीय अधिकार का उपयोग नहीं कर पा रहे हैं ! लिहाजा स्वास्थ विभाग के कर्मचारियों को वेतन से भी वंचित होना पड़ गया है !सूत्र बताते हैं सुजॉय मुखर्जी से स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी प्रताड़ित हो रहे थे सरकार के निर्देश के बावजूद भी सैकडो कर्मचारी इधर से उधर किए गए हैं ! जबकि शासन के अनुसार अटैच संलग्नीकरण समाप्त है ! पर भी सैकड़ों कर्मचारी संलग्न है !और दर्जनो कर्मचारी का वेतन रोका गया है !स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से परेशान थे सेवानिवृत्त होने के बाद कबीरधाम जिला के स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी बहुत खुशी आनंदित हुए थे! किंतु स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों में भय व्याप्त तब हुई जब यह सुनने में आया है !सुजॉय मुखर्जी को छत्तीसगढ़ सरकार एक्सटेंशन दे रही है इस बात से स्वास्थ्य विभाग सक्ते में है क्योंकि सुजॉय मुखर्जी के व्यवहार से स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी काफी परेशान थे और सरकार के खिलाफ पूरी तरह से माहौल बन चुकी थी, सबसे ज्यादा माहौल खराब कवर्धा विधायक एवं छत्तीसगढ़ के दबंग मंत्री मोहम्मद अकबर के खिलाफ अंदर ही अंदर भारी आक्रोश व्याप्त हो चुका है !स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी सुजॉय मुखर्जी का दबंगई मोहम्मद अकबर के छत्र छाया मानते हैं ! वर्तमान समय में अगर सुजॉय मुखर्जी कवर्धा सीएमएचओ एक्सटेंशन पर आते हैं तो स्वास्थ्य विभाग अंदर ही अंदर क्षेत्र के विधायक मोहम्मद अकबर के खिलाफ भारी आक्रोशित चुनाव में परिणाम अवश्य दिखा सकते हैं ! जबकी कुछ ही माह छत्तीसगढ़ के आम चुनाव शेष रह गये है वैसे मैं स्वास्थ्य विभाग कर्मचारी अधिकार का नाराजगी नेता जी को भारी ना पड जाये !इसे ध्यान रखते हुए वर्तमान प्रभारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी सूर्यवंशी को संपूर्ण प्रभार तुरंत दिला देनी चाहिए और किसी भी स्थिति में सुजॉय मुखर्जी को एक्सटेंशन दिलाने की स्थिति निर्मित ना करें वर्तमान समय में स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी सुजाय मुखर्जी का आने का भारी विरोध अंदर खाने से जता रहे हैं !पर मंत्री जी के भय से अपनी विरोध खुल कर जता नहीं पा रहे हैं! सुत्र के अनुसार सुजाय मुखर्जी के कारण जिला चिकित्सालय का माली हालत में सुधार बताया जाता है पर ये बात से लोग संतुष्ट नहीं है कोई विशेष बदलाव चिकित्सा सुविधा बदलाव नहीं देखा गया है मंत्री जी के करीबी ही मंत्री जी को गलत जानकारी देते रहे परिणाम स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों के अंदर ही अंदर सुजाय मुखर्जी प्रताड़ित करते रहे कर्मचारी मजबूर होकर प्रताड़ना सहते रहे बहुत कर्मचारी मंत्री जी को अवगत भी कराते रहे पर मंत्री जी का मोह भी सुजाय से अथाह था की किसी भी कर्मचारी का सुना नहीं गया तो स्वास्थ्य मंत्री से भी गुहार लगाई गई जहा से कवर्धा का चाह सुजाय मुखर्जी बता कर कर्मचारियों को बैरंग लौटा दिया गया इधर प्रताड़ना और साहब का बढ़ता रहा थक हार कर्मचारी सेवानिवृत्त का दिन गिनते रहे 30 जुन स्वास्थ्य कर्मचारीयों का ईद और दिवाली से कम ना था पर एक्सटेंशन सुन फिर अपनी जुबान अपने जहन में चुपचाप दबा रखें है ना जाने फिर ये आये तो किस पर कहर बरसायें कुछ कह पाना कठिन हो जायेगा पर क्षेत्र के विधायक मंत्री अपनी भलाई किस्में समझते हैं ओ बेहतर जानते हैं लिहाजा कबीरधाम स्वास्थ्य विभाग मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी विहीन है !

Related Articles

Back to top button
× How can I help you?