कवर्धाछत्तीसगढ़

विशेष पिछड़ी जनजाति (बैगा), नवविवाहिता और दिव्यांगजनों के साथ नए युवा का नाम जोड़ने चलेगा अभियान

कलेक्टर श्री जनमेजय महोबे ने विकासखंडवार निर्वाचन गतिविधियों की तैयारियों एवं प्रगति की समीक्षा की

कलेक्टर ने मतदाता सूची की शुद्वता बनाए जाने संबंधी दिए निर्देश

कवर्धा विधानसभा क्षेत्र के 184 और पंडरिया के 256 मतदान केन्द्रों में लिंगानुपात कम, इसलिए चलेगा विशेष अभियान

कवर्धा, 25 जून 2023। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री जनमेजय महोबे के निर्देश कबीरधाम जिले के पंडरिया विधानसभा क्षेत्र कंमाक 71 और कवर्धा विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 72 के कुल 440 मतदान केन्द्रों में विशेष पिछड़ी बैगा जनजाति, नवविवाहिता, दिव्यांगजनों, थर्ड जेंडर सहित 18 वर्ष पूरा कर चुके आम नागरिकों का नाम जोड़ने मतदान केन्द्र स्तर पर भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशों के अनुपालन द्वितीय विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम अभियान चलाया जाएगा। जिले के इन दोनों विधानसभा क्षेत्र में कुल 802 मतदान केन्द्र है। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री जनमेजय महोबे के निर्देश जिले के सभी मतदान केन्द्रवार ग्राम स्तर पर महिला, पुरूषो की संख्या की जांच कराई गई। जांच में 440 मतदात केन्द्रों में पुरूषों की तुलना में महिला मतदाताओं की संख्या में कमी पाई गई है। जिसमें कवर्धा विधानसभा क्षेत्र के 184 मतदान केन्द्र और पंडरिया विधानसभा क्षेत्र के 256 मतदान केन्द्र है। कवर्धा विधानसभा क्षेत्र में लिंगानुपात 998 और पंडरिया में लिंगानुपात 970 पाई गई है। कलेक्टर श्री महोबे ने जनगणना 2011 के ंअनुसार जिले के जेंडर रेशियों 996 के आधार पर मतदाता सूची के जेंडर रेशियों में समतुल्यता लाने के निर्देश दिये है।

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री महोबे के निर्देश पर इन सभी मतदान केन्द्रों में मतदाता सूची में छूटे हुए महिलाओं का नाम जोड़ने के लिए तहसील कार्यालयों को मतदान केन्द्रों की मतदाता सूची भेजी गई है। इसके बारे में संबंधित मतदान केन्द्रों में छूटे हुए महिलाओं का नाम जोड़ने की कार्यवाही किए जाएंगे।

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री जनमेजय महोबे ने आगामी विधानसभा निर्वाचन 2023 को दृष्टिगत रखते हुए विकासखण्डवार बैठक लेकर भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार द्वितीय विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम एवं स्वीप कार्यक्रमों की गहनता से समीक्षा की। कलेक्टर ने दो दिन पहले शुक्रवार को बोडला, पंडरिया तथा शनिवार को कवर्धा और सहसपुर लोहारा में राजस्व अधिकारियों के साथ पटवारियों तथा पुनरीक्षण कार्य के लिए नियुक्त किए गए बीएलओ-सुपरवाईजर की बैठक लेकर वृहद निर्देश दिए गए। बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्री संदीप अग्रवाल, कवर्धा-सहसपुर लोहारा एसडीएम श्री पीसी कोरी, बोडला एसडीएम श्री संदीप ठाकुर, पंडरिया एसडीएम श्री डीआर डाहिरे सहित राजस्व अधिकारी तहसीलदार,नायब तहसीलदार एवं समस्त पटवारी, सुपरवाईजर उपस्थित थे।

कलेक्टर श्री महोबे ने बैठक में निर्देश देते हुए कहा कि द्वितीय विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण अर्हता तिथि 01 अक्टूबर 2023 की स्थिति में 18 वर्ष की आयु पूर्ण कर लिये हैं या करेंगें, उनका नाम मतदाता सूची में शत-प्रतिशत जोड़े जाने के निर्देश दिए है। किसी भी दशा में नाम छूटना नहीं चाहिए। कलेक्टर ने बताया कि जिला कबीरधाम में 02 विधानसभा क्षेत्र 71-पण्डरिया एवं 72-कवर्धा हैं, जिसके अन्तर्गत क्रमशः 393 एवं 409 कुल 802 मतदान केन्द्र स्थापित है। विधानसभा क्षेत्र 71-पण्डरिया में पुरूष 150880 महिला 146337 तृतीय लिंग 0 कुल 297217 एवं 72-कवर्धा में पुरूष 157437 महिला 157108 तृतीय लिंग 03 कुल 314548 मतदाता है। इस प्रकार जिले में कुल 611765 मतदाता है। जिला कबीरधाम अंतर्गत विशेष पिछड़ी जनजाति समूहों के कुल 43979 व्यक्ति निवासरत है। जिसमें से 18प्लस आयुवर्ग के 25158 नागरिकों का मतदाता सूची में नाम जोड़ा जा चुका है। कलेक्टर ने शेष 18821 में से जिनकी आयु 18 वर्ष पूर्ण कर लिए हैं या करेंगे, का चिन्हांकन कर पात्र विशेष पिछड़ी जनजाति समूहों के नागरिकों का नाम मतदाता सूची में जोड़ने के निर्देश दिए।

बैठक में बताया गया कि जिले में कुल 8401 दिव्यांग है। जिसमें से विधानसभा क्षेत्र 71-पण्डरिया में 3096 एवं 72-कवर्धा में 2446 कुल 5542 दिव्यांगों का मतदाता सूची में पंजीयन कर लिया गया है। कलेक्टर ने शेष 2859 दिव्यांगजनों में से पात्र का चिन्हांकन कर मतदाता सूची में नाम शत-प्रतिशत जोडने के निर्देश दिए।

कलेक्टर श्री महोबे ने आयोग से प्राप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम का पोस्टर, बैनर्स एवं पाम्पलेट के माध्यम से, अपने-अपने क्षेत्रान्तर्गत आने वाले ग्राम पंचायतों में सरपंचों को भी बूथ लेबल आफिसरों की उपस्थिति में ग्रामसभा का आयोजन कर तथा ग्रामीण क्षेत्रों में कोटवारों के माध्यम से मुनादी कराकर, शहरी क्षेत्रों में लाउडस्पीकर के माध्यम से व्यापक प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिए।
कलेक्टर ने कहा कि यदि मतदाता सूची में किसी कारण से नाम छूट जाता है तो ऐसे स्थिति में मतदान करने से वंचित हो जाएंगे। इस लिए जिले के समस्त गणमान्य नागरिकों, राजनीतिक दल के पदाधिकारियों से अपील करते हुए कहा कि वे अपना, अपने परिवार, पास-पड़ोस के लोगों को मतदाता सूची में नाम जुड़वाने के लिए प्रेरित करें।

Related Articles

Back to top button
× How can I help you?