कवर्धाछत्तीसगढ़पंडरिया

नागाडबरा बैगा हत्या कांठ में क्षेत्रीय विधायक भावना बोहरा पर सवाल खड़ा करने वाले विपक्ष पर कड़ा विरोध जताते हुए सवाल उठाया है वरिष्ठ भाजपा नेता चंद्रकुमार सोनी।

चन्द्रकुमार सोनी ने कांग्रेस नेता नीलू चन्द्रवंशी से बुधराम बैगा कमराखोल के घटना पर पुछा है सवाल क्या किया कांग्रेस?

*चन्द्रकुमार सोनी ने कांग्रेस नेता नीलू चन्द्रवंशी से बुधराम बैगा कमराखोल के घटना पर पुछा है सवाल क्या किया कांग्रेस?*

पंडरिया -: विकास खंण्ड पंडरिया कें वनांचल क्षेत्र नागाडबरा के बैगा हत्याकांड , आगजनी का पर्दाफाश हो गया अपराधी एक दो नहीं चौदह लोगों को पुलिस बहुत ही धैर्यता से विवेचना कर अपराधी पकड लिया गया जिसमें हमारी सरकार की मुखिया और क्षेत्रीय विधायक श्रीमती भावना बोहरा जी का स्पष्ट शंका जाहिर करते हुयें अपने विचार पुलिस अधीक्षक महोदय और कलेक्टर साहब को बता दिया था जिनके ऊपर शंका था उन्हें हटवाया भी । विवेचना निष्पक्ष कर अपराधी को हर हालत में सामने लाने कहा भी साथ ही परिवार की हालत देखकर तत्काल जो बन पड़ा राहत राशि भी दिया ।

लेकिन कांग्रेस सरकार भूपेश बघेल मुखिया के रहते हुयें श्रीमती ममता चंद्राकर जी तत्कालकालिन विधायक और कांग्रेस पार्टी आज भी यह बतायें कि कमरा खोल में बुधराम बैगा का हत्या वन विकास निगम के कर्मचारी और अधिकारी,और नीचे तबके के लोग आत्महत्या करने के प्रताड़ित करना था जिसके कारण आत्मा हत्या फांसी लगाकर सोसाइट किया जिसका जांच आधा,अधुरे जल्दबाजी में पुलिस रिमांड न लेकर, पांच दिवस के अंदर चालान पेश कर दिया गया उसके पीछे का कारण वन मंत्री अकबर था, जिन्होंने न्याय नहीं दिलवाया स्व, बुधराम बैगा के पत्नी सहित छै छोटे छोटे बच्चे हैं कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस सरकार उसे सी.बी.आई.जांच की मांग तो दूर पुलिस के अंतरिक्त किसी भी अन्य एजेंसी से भी जांच कराना उचित नहीं समझा में कांग्रेस सरकार और कांग्रेस पार्टी की सोच है।राजनांदगांव लोकसभा क्षेत्र कें सांसद माननीय संतोष पाण्डेय जी ने कमरा खोल गांव पहुंचकर सभी स्थानों को प्रत्यक्षदर्शी बनकर निरीक्षण किया और उन्होंने धटना स्थल से लौटकर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर शंका जाहिर करते हुयें भूपेश सरकार को पत्र लिखा और महामहिम राज्यपाल, महोदय को पत्र लिखा,साथ ही साथ भाजपा संगठन को भी अवगत कराया जिस पर तत्कालकालिन प्रदेश भाजपा अध्यक्ष अरुण साव जी ने विधायक दल भेजा जिन्होंने पंडरिया के विश्राम गृह में विधायक माननीय शिवरतन शर्मा जी, वरिष्ठ आदिवासी नेता नंदकुमार साय जी को धटना का मुआयना कर रिपोर्ट देने कहा गया ।जो भी शंका था उन बिंदुओं को विधानसभा में प्रश्न और ध्यानाकर्षण लगाया लेकिन उस बुधराम बैगा से संबंधित प्रश्न का उतर देते तक विधानसभा स्थगित करते गये और आश्वासन के बाद अगला उत्तर नहीं दें पायें भूपेश सरकार,अब बताइयेगा नीलू चंद्रवंशी जी आप कांग्रेस पार्टी कबीरधाम जिला के अध्यक्ष थें आपका जिम्मेदारी संगठन और जन प्रतिनिधि के नाते क्या बनता है बतानें का कष्ट करें ?उस बुधराम बैगा के परिवार वालों के साथ कितना न्याय किया ।भेंट मुलाकात कार्यक्रम में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी कमराखोल सें मात्र सात कि.मी.की दुरी पर कुकदुर वनांचल में पहुंचना हुआ था रात्रि विश्राम पंडरिया नगर में किये लेकिन उस गांव में पहुंचकर शोक संवेदना जाहिर करते हुयें उचित जांच का आदेश भी नहीं दे पायें ।यें है कांग्रेस की संवेदनशीलता। लाश के ऊपर राजनीति करना मुख्य मकसद रहता है जैसे उत्तर प्रदेश के लखीमपुर में वरिष्ठ कांग्रेसी नेताओ के साथ जाकर किया और पचास लाख का मुआवजा शासन के द्वारा दिया गया। लेकिन कवर्धा, पंडरिया सहित कई अन्य हत्या हुई उन लोगों को पचास लाख मुआवजा नहीं दिये । सोचों और विचार करो जनहित में दलगत राजनीति से ऊपर आओ।

कांग्रेस पार्टी अनावश्यक क्षेत्रीय विधायक श्रीमती भावना बोहरा जी के ऊपर शंका जाहिर करना राजनीति से प्रेरित है जिस तरह से विधानसभा कें अंदर नागाडबरा बैगा कांड को उछाला गया लोकतंत्र में अच्छा है पर कमरा खोल कांड को भी एक बार उछाल कर न्याय दिलाने का कोशिश तो करो तत्कालीन विधायक घटना स्थल में कितना समय पहुंचे कुकदुर थाना से जानकारी ले लो । लेकिन क्षेत्रीय विधायक श्रीमती भावना बोहरा जी ने सभी कार्यक्रमो को निरस्त कर घटना स्थल में पहुंचकर परिजनों को सांत्वना दी और अपराधी को पकड़ने का अस्वासन दी आर्थिक सहायता राशि दी।ये है और शंका अच्छा विवेचना नहीं कर पाने पर थाना प्रभारी को हटाने कहीं ताकि अपराधी छुटे मत जल्दबाजी में कोई निर्णय न लें जांच सुक्ष्म करें। कमरा खोल जैसे जल्दीबाजी में विवेचना न करें ।कुछ अपराधी छुट जाय कुछ अपराधी बच जायें । ऐसा न हो चालान पेश न कर रिमांड लिया जायें ताकि जांच में स्पष्ट हो जायें यह विचार क्षेत्रीय विधायक श्रीमती भावना बोहरा जी का है पर कांग्रेस का सोच कुछ और है पुलिस अधीक्षक महोदय ने भी बहुत गंभीरता से सुक्ष्म तरीके से जांच बहुत गंभीरता पूर्वक चला रहा था जो पुलिस करता है।पर एक महिला विधायक श्रीमती भावना बोहरा जी,जो बहुत ही जनसेविका है जिन्होंने करोना काल में भी जो सहयोग और सहायता किया वह है छिपा नहीं है चाहे वनांचल क्षेत्र हो समतली क्षेत्र हो चाहे स्वास्थ्य के क्षेत्र में हो या राशन हो , मरीज़ को बाहर लाने ले जाने का सहयोग हो , शिक्षा के क्षेत्र में हो ऐसे जनसेविका के ऊपर शंका जाहिर करना निंदनीय है। हमारे शहर में भी जनसेवक है जिसके बारे में अच्छी तरह से जानते हैं काम राजनीति से ऊपर उठकर करो।

Related Articles

Back to top button
× How can I help you?