कवर्धाछत्तीसगढ़

90 वर्ष की बैगा बुजुर्ग महिला ने घर पर बैठ कर किया मतदान, कहा यह उनके जीवन का सबसे सुखद पल है, उन्होने पूरे गांव वालों को शत प्रतिशत मतदान करने की अपील भी की  

घरों में पहुंचकर मतदान दलों ने कराया चालीस प्रतिशत से उपर दिव्यांग और अस्सी वर्ष से उपर बुजुर्गों का मतदान।

30 अक्ब्टूबर को जिले के 167 मतदाताओं ने घर बैठे मताधिकार का किया प्रयोग।

30 और 31 अक्टूबर को कवर्धा और पंडरिया विधानसभा क्षेत्र के कुल 450 बुजुर्ग और दिव्यांग मतदाताओं को मतदान करने का लक्ष्य।

 इन दोनों विधानसभा क्षेत्र में निवासरत मतदाता के घरों तक पहुचने 33 रूट के लिए 33 मतदान दल बनाए गए।

 

कवर्धा, 30 अक्टूबर 2023। भारत निर्वाचन आयोग और मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी छत्तीसगढ़ द्वारा जारी समय सारणी के मुताबिक कबीरधाम जिले के पंडरिया और कवर्धा विधानसभा क्षेत्र के चालीस प्रतिशत से उपर दिव्यांग और अस्सी वर्ष से उपर बुजुर्ग कुल 450 मतदाताओं द्वारा विधानसभा आम निर्वाचन 2023 में स्वतंत्र एवं निष्पक्ष मतदान कराने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। इन 450 मतदाताओं के घर पहुंचने के लिए आयोग के अनुपालन में कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री जनमेजय के निर्देश पर 33 रूट के लिए 33 मतदान दल बनाए गए है। 30 और 31 अक्टूबर को मतदाताओं के घर पहुंचकर मतदान कराने के लिए तिथी निर्धारित की गई है।

निर्धारित तिथी अनुसार आज कवर्धा विधानसभा क्षेत्र के आदिवासी एवं बैगा बाहुल्य ग्राम कोमो की 90 वर्षीय बुजुर्ग बैगा महिला ने अपने घर पर ही लोकतंत्र को मजबूत बनाने के लिए अपने मताधिकार का प्रयोग किया। जब उनके गांव में निर्वाचन कराने मतदान दल पहुंचा तो पूरे गांव में चर्चा का विषय बना रहा। उन्होने चर्चा करते हुए बताया कि घर बैठे मतदान करने का यह उनका जीवन का सुखद पल था। इससे पहले वह हमेशा अपने मतदान केन्द्र पहुंचकर ही मतदान करती थी। इस बार भारत निर्वाचन आयोग द्वारा नई सुविधा मिलने से 80 वर्ष से ऊपर और 40 प्रतिशत से उपर दिव्यांग जनों को बहुत राहत और सुविधा मिल रही है। मतदान करने के बाद उस बुजुर्ग बैगा महिला ने पूरे गांव वालों से आगामी 7 नवम्बर को शत प्रतिशत मतदान करने की अपील भी की है। मतदान की समस्त प्रक्रिया की वीडियोग्राफी कराई गई है। समान्य प्रेक्षक श्री अजय कुमार गुप्ता एवं व्यय प्रेक्षक श्री वेंकन्ना तेजावथ द्वारा ग्राम खैरबना कला में कराए जा रहे 80 वर्ष से अधिक बुजुर्ग एवं दिव्यांग मतदान प्रक्रिया का निरीक्षण किया गया।

कबीरधाम जिले के पंडरिया और कवर्धा विधानसभा क्षेत्र के चालीस प्रतिशत से उपर दिव्यांग और अस्सी वर्ष से उपर बुजुर्ग कुल 450 मतदाताओं के लिए डाक मतपत्र से मतदान कराने के लिए 30 और 31 अक्टूबर निर्धारित की गई है। कलेक्टर एवं जनमेजय महोबे की उपस्थिति में आज सुबह इन दोनों विधानसभा क्षेत्र के 17 रूट के लिए 17 मतदान दल रवाना किया गया है। 30 अक्टूबर को इन दोनो विधानसभा क्षेत्र से 185 दिव्यांग एवं बुजुर्ग मतदाताओं ने घर बैठे मतदान करने के लिए सहमति दी थी। देर शाम तक आज के पूरे मतदान दल वापस पहुंच गए।

 

 

*डाकमत पत्र द्वारा किए गए मतदान की जानकारी इस प्रकार है…….*

 

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री जनमेजय महोबे ने बताया कि 30 अक्टूबर को कवर्धा एवं पंडरिया विधानसभा के बुजुर्ग व दिव्यांग कुल 185 मतदाताओं ने घर बैठकर मतदान करने की सहमति दी थी। इन 185 मतदाताओं के घर पहुंचने के लिए 17 रूट के लिए 17 मतदान दल बनाएं गए थे। इन 185 मतदाताओं में 167 मतदाताओं ने घर बैठे मताधिकार का प्रयोग किया। इनमें 18 मतदाताओं ने मतदान नहीं कर पाएं। मतदान नहीं करने वाले 18 मतदातओं में 10 मतदाता की मृत्यु और 08 मतदाता अनुपस्थित पाएं गए। इसी प्रकार 31 अक्टूबर को इन दोनों विधानसभा क्षेत्र के कुल 265 बुजुर्ग और दिव्यांग मतदाताओं के घर पहुंचने के लिए 16 मतदान दल एवं रूट बनाए गए है।

विधानसभा पंडरिया

पंडरिया विधानसभा क्षेत्र में कुल 58 बुजुर्ग व दिव्यांग मतदाता थे। जिसमें 51 लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। 07 लोग मतदान नहीं कर पाए। इन सात लोगों में 05 की मृत्यु और 02 मतदाता अनुपस्थित पाएं गए।

विधानसभा कवर्धा

कवर्धा विधानसभा क्षेत्र में कुल 127 बुजुर्ग व दिव्यांग मतदाता थे। जिसमें 116 लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। 11 लोग मतदान नहीं कर पाए। इन 11 लोगों में 05 की मृत्यु और 06 मतदाता अनुपस्थित पाएं गए।

उल्लेखनीय है कि भारत निर्वाचन आयोग एवं मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी छत्तीसगढ़ के दिशा-निर्देशों के अनुसार विधानसभा आम निर्वाचन 2023 में 40 प्रतिशत से अधिक दिव्यांग (दिव्यांग प्रमाण पत्र अनिवार्य है) और अस्सी वर्ष से अधिक बुजुर्ग मतदाताओं को इस बार घर बैठे मतदान कराने की सुविधा प्रदान की गई है। जिले के पंडरिया एव कवर्धा विधानसभा क्षेत्र के 40 प्रतिशत से अधिक दिव्यांग (दिव्यांग प्रमाण पत्र अनिवार्य है) और अस्सी वर्ष से अधिक बुजुर्ग कुल 450 मतदाताओं ने घर बैठे मतदान कराने के लिए बीएलओ के माध्यम से सहमति दी है। सभी रूट में एक मतदान दल 30 एवं 31 अक्टूबर को भ्रमण कर मतदान कराया जाएगा। इन मतदाताओं में विधानसभा-71 पंडरिया से 29 दिव्यांग मतदाता और 80 वर्ष से अधिक 130 मतदाता कुल 159 मतदाताओं ने सहमति प्रदान की है जो घर से मतदान करेंगे। इसी प्रकार विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 72 कवर्धा से 51 दिव्यांग मतदाता और 80 वर्ष से अधिक 240 कुल 291 मतदाताओं ने घर से मतदान करने के लिए सहमति प्रदान की।

Related Articles

Back to top button
× How can I help you?